Wednesday, September 22

रीवा संभाग में 4,916 तालाबों के 10,010 हेक्टेयर जल क्षेत्र में किया जा रहा है मछली पालन।

Pinterest LinkedIn Tumblr +

रीवा संभाग में 4,916 तालाबों के 10,010 हेक्टेयर जल क्षेत्र में किया जा रहा है मछली पालन।

ग्रामीण तालाबों में तीन हजार किलो प्रति हेक्टेयर मछली का औसत उत्पादन कम लागत व कम अवधि में मछली पालक किसान प्राप्त कर रहें अच्छी आय।

ब्यूरो रीवा

रीवा ।  कृषि तथा पशुपालन के साथ मछली पालन भी अत्यंत लाभदायक व्यवसाय है कम लागत में मछली पालक किसान कम अवधि में मछली पालन से अच्छी आय प्राप्त कर लेते हैं रीवा संभाग में कुल 10,010 हेक्टेयर जल क्षेत्र में मछली पालन किया जा रहा है संभाग के कुल 4 हजार 916 तालाबों में मछली पालन किया जा रहा है इस संबंध में प्रभारी संयुक्त संचालक मछली पालन ने बताया कि रीवा जिले में 1534 तालाबों में 3628 हेक्टेयर जल क्षेत्र में मछली पालन किया जा रहा है सतना जिले में 1681 तालाबों में 4009 हेक्टेयर तथा सीधी जिले में 867 तालाबों में 1377 हेक्टेयर जल क्षेत्र में मछली पालन किया जा रहा है सिंगरौली जिले में 834 तालाबों में 996 हेक्टेयर जल क्षेत्र में मछली पालन किया जा रहा है। संभाग में ग्रामीण तालाबों में तीन हजार किलो प्रति हेक्टेयर मछली का औसत उत्पादन होता है।

Share.

Leave A Reply